Sunday, January 8, 2017


मित्रों ,यह वीणा का जनवरी २०१७ का अंक है। इसका कवर पृष्ट सुविख्यात चित्रकार और कहानीकार श्री प्रभु जोशी ने बनाया है। इसमें डॉ. कमल किशोर गोयनका, डॉ. विजय बहादुर सिंह, रमेश दवे, नर्मदा प्रसाद उपाध्याय, मनोज पांडेय, सूर्यकांत नगर, के आलेख तथा सूर्यवाला, मीनाक्षी स्वामी, प्रकाश कान्त की कहानियां तथा बुद्धिनाथ मिश्र के गीत सहित पठनीय सामग्री उपलब्ध है।
वीणा के आगामी अंको के लिए आप अपनी चयनित रचनाएँ भेजने का कष्ट करें।


No comments: